Other

कानपुर में कोरोना विस्फोट, एक गली में मिले 60 लोग संक्रमित

यूपी के कानपुर (Coronavirus in Kanpur) जिले की विद्युत कॉलोनी की एक गली में Covid-19 संक्रमण के 60 मरीज सामने आए हैं। देश में संभवतः अपनी तरह का यह पहला मामला है। सीएमओ के मुताबिक, कोरोना संक्रमित पाए गए सभी मरीजों में कोई भी लक्षण नजर नहीं आ रहा

हाइलाइट्स:

कानपुर जिले की विद्युत कॉलोनी की एक गली में का है मामलादेश में संभवतः अपनी तरह का है यह पहला मामलाकानपुर के सीएमओ डॉक्टर अशोक शुक्ला ने रविवार को पुष्टि कीसीएमओ के मुताबिक, कोरोना संक्रमित पाए गए सभी मरीजों में कोई भी लक्षण नहीं

कानपुर

कोरोना महामारी का भयायक रूप यूपी के कानपुर में सामने आया है। कानपुर जिले की विद्युत कॉलोनी की एक गली में Covid-19संक्रमण के 60 मरीज सामने आए हैं। देश में संभवतः अपनी तरह का यह पहला मामला है। कानपुर के सीएमओ डॉक्टर अशोक शुक्ला ने रविवार को इसकी पुष्टि की है। सीएमओ के मुताबिक, कोरोना संक्रमित पाए गए सभी मरीजों में कोई भी लक्षण नजर नहीं आ रहा है।

सीएमओ डॉक्टर अशोक शुक्ला ने रविवार को बताया कि बर्रा थाना क्षेत्र में शिव नगर की विद्युत कॉलोनी की एक गली में गत गुरुवार से अब तक 60 लोग Covid-19 से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से ज्यादातर लोग ऐसे हैं जिनमें संक्रमण का कोई भी लक्षण नहीं था। उन्होंने बताया कि स्थानीय पार्षद के बीमार पड़ने के बाद यह सिलसिला शुरू हुआ था। पार्षद हाल ही में गोरखपुर से कानपुर लौटे थे। तबीयत खराब होने पर उन्होंने डीएम ब्रह्मदेव राम तिवारी से मदद मांगी थी। बीते गुरुवार को आई जांच रिपोर्ट में वह और उनका प्रतिनिधि Covid-19 संक्रमित पाए गए थे।

मात्र 15 फीट चौड़ी और 200 मीटर लंबी है गली।

शुक्ला ने बताया कि पार्षद और उनके प्रतिनिधि के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने उनके संपर्क में आए लोगों को तलाशने के साथ उनकी Covid-19 संबंधी जांच भी कराई। देखते ही देखते मात्र चार दिनों के अंदर एक ही गली में 60 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। इनमें करीब 20 महिलाएं भी हैं। घनी आबादी में बनी वह गली मात्र 15 फीट चौड़ी और लगभग 200 मीटर लंबी है।

इलाके को किया हॉट स्पॉट घोषित।

शुक्ला ने बताया कि उस गली में रहने वाले ज्यादातर लोग दलित हैं और उनमें से अधिकतर दूध, सब्जी और फल बेचने का काम करते हैं। संक्रमित पाए गए सभी लोगों को रामा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। उनमें से ज्यादातर लोगों में Covid-19 का कोई भी लक्षण नहीं दिखाई दे रहा था। उन्होंने बताया कि इलाके को हॉट स्पॉट घोषित करके आवश्यक प्रोटोकॉल लागू किया गया है।

बिना मास्क लगाए अक्सर हुजूम में बैठे नजर आते हैं गली के लोग।

बर्रा थाना अध्यक्ष रंजीत सिंह ने बताया कि विद्युत कॉलोनी की उस गली में रहने वाले लोग बिना मास्क लगाए अक्सर हुजूम में बैठे नजर आते हैं और उनके बीच सोशल डिस्टेंसिंग जैसी कोई चीज नहीं रहती। ऐसे में अनुमान लगाया जा सकता है कि कोरोना के मामले इन्हीं सब कारणों से बढ़े हैं।

Related posts

पीएम मोदी के ऐलान पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने जताई चिंता, कहा- फेल हो सकती है पॉवर ग्रिड

Dabra Samachar

मण्डलीय अधिकारियों के माध्यम से होगा वृहद स्तर पर स्थलीय सत्यापन: मण्डलायुक्त

Dabra Samachar

एक टिप्पणी छोड़ें